बच्चे नींद में क्यों रोते हैं व कैसे चुप कराएं

46

शिशुओं या छोटे बच्चों का किसी भी समय रोना आम है. यह ऐसी प्रतिक्रिया होती है, जिसके जरिए बच्चे अपनी बात को समझाने का प्रयास करते हैं. वहीं, कुछ बच्चे नींद में भी अचानक से रोने लगते हैं. यह देखकर अक्सर पेरेंट्स घबराने लगते हैं. अधिकतर मामलों में बच्चों का नींद में रोना कोई गंभीर समस्या का संकेत नहीं होता है. लगभग 30 फीसदी बच्चे नींद के दौरान रोते हैं. कुछ बच्चे दांत निकलने से होने वाले दर्द के कारण सोते हुए रोते हैं, तो कुछ बुरा सपना देखने पर ऐसी प्रतिक्रिया देते हैं.

आज इस लेख में आप बच्चों के नींद में रोने के कारणों व उन्हें चुप कराने के तरीके के बारे में जानेंगे –

(और पढ़ें – बच्चों को चुप कराने का तरीका)

External Content



Source link

Sponsored: