प्रीमेच्योर एजिंग का कारण बनने वाली आदतें

39

जैसे-जैसे व्यक्ति की उम्र बढ़ती जाती है, इसका असर उसकी स्किन पर देखने को मिल जाता है. उम्र बढ़ने पर त्वचा पर झुर्रियां व फाइन लाइंस आदि दिखने लगती हैं. इसके साथ ही उम्र बढ़ने के लक्षण बालों और सेहत से भी दिख जाते हैं. उम्र बढ़ने पर व्यक्ति को बार-बार थकान महसूस हो सकती है, बाल सफेद हो सकते हैं. अधिक उम्र में एजिंग के लक्षण दिखना सामान्य होता है और प्रत्येक व्यक्ति को इससे गुजरना पड़ता है, लेकिन कुछ लोगों में कम उम्र में ही बढ़ती उम्र के लक्षण नजर आने लगते हैं. इसे प्रीमेच्योर एजिंग के रूप में जाना जाता है. प्रीमेच्योर एजिंग में व्यक्ति की त्वचा पर कम उम्र में ही झुर्रियां व महीन रेखाओं जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं. 

आज इस लेख में आप प्रीमेच्योर एजिंग का कारण बनने वाली आदतों के बारे में विस्तार से जानेंगे –

(और पढ़ें – एंटी एजिंग क्या है)

External Content



Source link

Sponsored: