धूम्रपान का महिला की प्रजनन क्षमता पर असर

58

इसमें कोई शक नहीं कि धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है. धूम्रपान करने वाले लोगों को कैंसर और हृदय रोग का जोखिम अन्य लोगों की तुलना में अधिक होता है. धूम्रपान फेफड़ों, लिवर व हृदय आदि अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है. धूम्रपान में मौजूद निकोटिन महिला की प्रजनन क्षमता को भी प्रभावित कर सकता है. जो महिला धूम्रपान करती है, उसे गर्भधारण करने में मुश्किल हो सकती है. यहां तक कि गर्भपात का भी सामना करना पड़ सकता है. एक रिसर्च के अनुसार धूम्रपान की वजह से कम से कम 13 फीसदी जोड़ों को कमजोर या कम प्रजनन क्षमता से जूझना पड़ता है.

आज इस लेख में आप धूम्रपान का महिला प्रजनन क्षमता पर पड़ने वाले असर के बारे में विस्तार से जानेंगे –

(और पढ़ें – महिलाओं की प्रजनन क्षमता के लिए दवाओं के फायदे)

External Content



Source link

Sponsored: