गहरी नींद के चरण, गहरी नींद न आने का असर, कितनी गहरी नींद जरूरी है?

29

हर व्यक्ति के लिए नींद लेना जरूरी होता है. स्वस्थ रहने के लिए हेल्थ एक्सपर्ट्स भी पर्याप्त नींद लेने की सलाह देते हैं. इसलिए, हर व्यक्ति रोजाना 7 से 8 घंटे की नींद लेने की कोशिश जरूर करता है, लेकिन इसके साथ नींद की गुणवत्ता का अच्छा होना भी जरूरी होता है. जब कोई व्यक्ति पूरी और अच्छी नींद लेता है, तो वह हमेशा स्वस्थ और तरोताजा महसूस कर सकता है. आपको बता दें कि नींद को दो श्रेणियों में बांटा गया है – आरईएम (REM) और नॉन आरईएम (Non REM). रात को नींद आने की शुरुआत नॉन आरईएम से होती है. इसके बाद आरईएम नींद शुरू होता है. आरईएम और नॉन आरईएम के भी अपने-अपने कुछ चरण होते हैं. नॉन आरईएम के आखिरी चरण में गहरी नींद आती है.

आज इस लेख में आप गहरी नींद के चरण व असर आदि के बारे में ही विस्तार से जानेंगे –

(और पढ़ें – गहरी नींद आने के घरेलू उपाय)

External Content



Source link

Sponsored: